ब्लॉग

बॉलीवुड की क्वीन कंगना रनौत पड़ी महाराष्ट्र सरकार पर भारी

बॉलीवुड अभिनेत्री, कंगना रनौत सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती है। अपने विचारो को स्पष्ट रूप से रखने वाली अभिनेत्री कंगना रनौत महाराष्ट्र सरकार, ओर भारी पड़ गई हैं। कंगना और उद्धव ठाकरे की सरकार में चल रही तनातनी के बीच, बीएमसी ने कंगना के मुंबई स्थित ऑफिस को तोड़ दिया है। जिसपर कंगना ने फोटो शेयर कर बीएमसी को …

Read More »

सुशांत डैथ मिस्ट्री: कौन है अपना कौन है पराया? क्या कर पाएगी सीबीआई मुजरिमों का सफाया

सुशांत सिंह राजपूत केस में सीबीआई, ईडी और एनसीबी इस केस को बारीकी से जांच रही हैं। इसी सिलसिले में एनसीबी की टीम शुक्रवार सुबह रिया चक्रवर्ती के घर पहुंच गई है। बताया जा रहा है कि, रिया के साथी, सैमुअल मिरांडा के घर भी एनसीबी ने तलाशी की है, और अब उन्हें हिरासत में ले लिया गया है। बता …

Read More »

कोरोना काल और लोगों का टूटता धैर्य मानव सभ्यता के लिए बड़ी चुनौती

कोरोना काल और लोगों का टूटता धैर्य

साल की शुरुआत का जश्न मनाने वाले दुनिया भर के तमाम लोगों को इस बात का शायद अंदेशा भी नहीं होगा, कि साल की तिमाही में ही वक्त की रफ़्तार पर सरपट दौड़ती दुनिया की रफ्तार पर पावर ब्रेक लग जायेगा और दुनिया थम जाएगी, सहम जाएगी। नंगी आँखों से न दिखने वाला वायरस दुनिया भर में इस तरह तबाही …

Read More »

आज के दौर में बाजारवाद का खेल, चहुं और मिलावट की रेल

शशि पाण्डेय का व्यंग्य लेख कल ही तिवारी जी के इधर से निकलना हुआ। घर के अंदर से गाने की आवाज आ रही थी “ होली आयी रे कन्हाई.. सुना दे जरा बांसुरी” देखा तो तिवारी जी घर के पीछे लगे बबूल को काट रहे थे । मैने उनसे पूछा इतना भला चंगा पेड़ क्यो काट रहे हैं पता चला …

Read More »

बाल मजदूरी से मज़बूर बचपन : सिर्फ कड़े कानून काफी नहीं, जागरूकता जरुरी

मोहम्मद तैय्यब का आलेख यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण बात है कि आज भी भारत मे पढ़े लिखे वर्ग के लोग भी अपने काम को निकालने के लिए बाल मजदूरी का प्रयोग सबसे ज्यादा करते है। अक्सर हम देखते है कि गरीब तबके के बच्चा जिस उम्र में उसके हाथ मे खिलोने और किताबे होनी चाइये उस हाथ मे वो किसी …

Read More »

सिंधु जल संधि से भारत को क्यों नही बाहर निकल जाना चाहिए ?

1948 में भारत ने पाकिस्तान को पानी रोका था, जिससे पाकिस्तान में बहुत समस्याएं पैदा हो गई थी। तब से लेकर बरसों भारत और पाकिस्तान में इस जल के बंटवारे को लेकर संघर्ष चलता रहा। फिर अमेरिका और विश्व बैंक की मध्यस्थता से पंडित नेहरू और पाकिस्तान के राष्ट्रपति अयूब खान के बीच 1960 में यह समझौता हुआ था। इस …

Read More »

गरीब पर खूबसरत लड़की की समाज में इज्जत हो सकती है पर आदमी की इज्जत उसके पैसे से ही होती है

गरिमा कौशिक का आलेख : मैं जानती हूं कि अगली पंक्ति में जो ख़ूबसूरती की परिभाषा मैं देने वाली हूं, उसकी वजह से मुझे कई लोग कॉमेंट्स में कोसेंगे पर यह परिभाषा ९०% लोग मानते है, बस स्वीकार नहीं करते। अंग्रेजी में ऐसी सोच रखने वाली महिला को लोग गोल्ड डिगर कहते है, पर क्या सारा समाज इसी सोच से …

Read More »

तमिलनाडू में हिन्दू रामलिंगम की वीभत्स हत्या !

आज हिन्दू संघर्ष समिति ने तमिलनाडू में हिन्दू रामलिंगम की वीभत्स हत्या के विरोध मे उन्हें न्याय दिलाने के विजय चौक पर रोष प्रदर्शन किया । हिन्दू संघर्ष समिति हमेशा PFI का विरोध किया है तथा उसके ख़िलाफ़ जागरूकता फैलाने हेतु PFI की पोल खोलने वाली एक बुकलेट भी जारी की थी । हिन्दू संघर्ष समिति के झारखंड के अध्यक्ष …

Read More »

क्या है अमेरिका में होने वाला शटडाउन ? आम लोगों पर कैसे पड़ता है इसका असर

नई दिल्ली : आजकल अमेरिका में सरकारी शटडाउन की स्थिति बनी हुई है या यू कहे कि अमेरिका फिर से एक बार शटडाउन का सामना कर रहा है. क्या आप जानते हैं कि सरकारी शटडाउन क्या है ? अमेरिका में शटडाउन कैसे होता है ? इसके पीछे क्या कारण है ? इसके क्या परिणाम हो सकते हैं ? बाकी देशों …

Read More »

बदलते दौर में फिल्मों में हीरो के खलनायक बनने की बदलती वजहें !

नई दिल्ली : आज़ादी के 10 साल बाद 1957 में देश में खेती और किसान की बदहाली दिखाती फिल्म ‘मदर इंडिया’ को दर्शकों ने बहुत सराहा। जहां साहूकार जो अमीर है, किसान को कर्ज़ की मार के नीचे दबोचता हुआ दिखाई देता है। जहां एक किसान परिवार का मुख्य सदस्य खुदकुशी के लिए मजबूर होता है, एक मां अपने दो …

Read More »