ISIS में शामिल हो रहे 9 संदिग्धों को एटीएस ने किया गिरफ्तार

नई दिल्ली : ISIS में शामिल हो रहे 9 संदिग्धों को गिरफ्तार करने में एटीएस को कामयाबी हासिल हुई है। महराष्ट्र एटीएस ने 9 संदिग्ध युवकों को गिरफ्तार किया है, जिनके बारे में कहा जा रहा है कि कथित तौर पर आतंकवादी संगठन आईएसआईएस में शामिल होने वाले थे। इस मामले में महाराष्ट्र के बाहर भी कुछ गिरफ्तारियां हो सकती हैं।

एटीएस के मुताबिक मिले इनपुट के आधार पर प्रतिबंधित अंतरराष्ट्रीय आतंकी संगठन आईएसआईएस से जुड़े एक समूह के लोगों की तलाश में सर्च ऑपरेशन चलाया गया। इस दौरान ठाणे के मुंब्रा और औरंगाबाद जिले में पांच ठिकानों पर छापेमारी की गई। मंगलवार रात को संदिग्धों से पूछताछ की गई। तलाशी अभियान के बाद 9 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। छापे की कार्रवाई के दौरान कुछ केमिकल, पाउडर, मोबाइल फोन, हार्ड ड्राइव, सिमकार्ड, ऐसिड बोतल और धारदार चाकू बरामद किए गए हैं। यूएपीए (गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम कानून 1967) के तहत गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। इस मामले में आगे की जांच अभी जारी है।

पकड़े गए सभी संदिग्ध सीरिया जाने वाले थे। वहां उन्हें फिदायीन ट्रेनिंग दी जानी थी। पकड़े गए पांच संदिग्ध औरंगाबाद और चार ठाणे जिले के मुंब्रा के रहने वाले हैं। एटीएस इनसे सख्ती से पूछताछ कर रही है। एटीएस ने ठाणे में जिन संदिग्धों को पकड़ा है, वे सभी पॉप्युलर फ्रंट ऑफ इंडिया की औरंगाबाद शाखा के सलमान के संपर्क में थे।

मुंब्रा में हिरासत में लिए गए एक नाबालिग सहित मोहम्मद मजहर शेख, मोहसिन खान और फहद शाह के नाम सामने आ रहे हैं। मोहम्मद मजहर शेख मकैनिकल इंजिनियर और मोहसिन खान सिविल इंजिनियर है। फहद शाह आर्किटेक्ट बताया जा रहा है। सूत्रों के मुताबिक, सभी को पहले हिरासत में लिया गया और फिर एटीएस टीम उनके घर पहुंची।

मजहर के भाई अजहर ने बताया, मजहर औरंगाबाद में अपने एक दोस्त सलमान के निकाह में शामिल होने की बात कहकर घर से गया था। बाद में उसका मोबाइल बंद हो गया। मंगलवार को तड़के तीन बजे खुद को एटीएस का अधिकारी बताने वाले कुछ लोग उसके घर आए थे। उन्होंने घर की तलाशी लेकर कोना-कोना छान मारा था। पुलिस वाले अजहर के घर से सभी सदस्यों के मोबाइल फोन, सिम कार्ड, उर्दू की कुछ पुस्तकें और एक लैपटॉप अपने साथ ले गए हैं।

About Kanhaiya Krishna

Check Also

पाकिस्तानी आतंकी बाबर भाई मुठभेड़ में ढेर, 4 साल से था घाटी में एक्टिव

पाकिस्तानी आतंकी बाबर भाई मुठभेड़ में ढेर, 4 साल से था घाटी में एक्टिव

पाकिस्तानी आतंकी बाबर भाई मुठभेड़ में ढेर, 4 साल से था घाटी में एक्टिव जम्मू-कश्मीर …

करतारपुर कॉरिडोर

74 साल बाद करतारपुर कॉरिडोर के जरिए मिले दो भाई, बंटवारे ने किया था अलग

1947 में जब भारत और पाकिस्तान का बंटवारा हुआ तो मोहम्मद सिद्दीक नवजात थे। उनका …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *