Breaking News

श्रावस्ती : मण्डलीय बेसिक शिक्षा खेल प्रतियोगिता का मंत्री ने किया शुभारम्भ

प्रवीण कुमार मिश्रा

श्रावस्ती : जूनियर हाईस्कूल भिनगा में आयोजित दो दिवसीय 16 वीं मण्डलीय बेसिक शिक्षा परिषदीय बाल क्रीडा प्रतियोगिता का शुभारंभ कार्यक्रम की मुख्य अतिथि/प्रदेश के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) बेशिक शिक्षा, बाल विकास पुष्टाहार, राजस्व एंव वित्त अनुपमा जायसवाल, जिलाधिकारी दीपक मीणा, पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव, जिलाध्यक्ष शंकर दयाल पाण्डेय एवं जनप्रतिनिधिगणों ने माॅ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण, दीप प्रज्ज्वलन व शान्ति का प्रतीक कबूतर उड़ाकर किया।

बेसिक शिक्षा मंत्री ने अपने सम्बोधन में कहा कि शिक्षा के साथ-साथ सहभागी क्रिया कलापों इत्यादि गतिविधियों से बच्चों के आत्म विश्वास में बढ़ोत्तरी होती है तथा उनका मानसिक विकास भी होता है। इसके लिए उन्होने सभी शिक्षक शिक्षिकाओं को निर्देशित किया कि वे बच्चों में पढ़ाई के साथ-साथ खेल की गतिविधियों के प्रति भी रूचि पैदा करें। उन्होने कहा कि अनुशासन शालीनता और सहचर्य का ज्ञान प्राप्त करने के लिए खेल का मैदान सर्वोत्तम पाठशाला है। उन्होने बच्चों को सम्बोधित करते हुए कहा कि बड़े लक्ष्य को साध कर निरन्तर परिश्रम करने वाले लोग ही विजय प्राप्त करते है यह सीख केवल हमें खेल के मैदानों से ही मिलती है।

उन्होने जोर देते हुए कहा कि बच्चे देश के भाग्यविधाता है इन भाग्य विधाताओ को शिक्षित करना हम सब का नैतिक दायित्व है प्रदेश सरकार प्राथमिक शिक्षा में गुणात्मक सुधार लाने हेतु प्रतिबद्ध है इसके लिये विशेष प्रयास किये जा रहे है प्राथमिक/जूनियर विद्यालयों में अध्ययनरत बच्चों को मीनू के अनुसार भोजन, निःशुल्क पाठ्य पुस्तके, जूता-मोजा, यूनीफार्म एवं स्कूल बैग मुहैया कराया जा रहा है ताकि अविभावकगण प्रेरित होकर अपने बच्चों को स्कूल भेजे और वे शिक्षित होकर देश कर्णधार बन सके।

इस अवसर पर जिलाधिकारी दीपक मीणा ने अपने सम्बोधन में कहा कि भारत सरकार एवं प्रदेश सरकार जन-जन के बच्चों को शिक्षित करने हेतु प्रतिबद्ध है और स्कूल आने वाले नौनिहालों को सभी सुविधाये प्रदान की जा रही है। इसलिये सभी लोगो का दायित्व बनता है कि यदि उनके आस-पास कोई बच्चा स्कूल जाने सें वंचित है तो उनके अविभावक को बच्चे का स्कूल में दाखिला करने हेतु प्रेरित करके स्कूल जरूर भिजवाये ताकि वह बच्चा भी देश कर्णधार बन सके।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव ने अपने सम्बोधन में कहा कि अशिक्षा लोगो के विकास में बाधक रही है इस लिये शत प्रतिशत लोगो को शिक्षित किये बिना सम्मपूर्ण की विकास परिकल्पना नही की जा सकती है। भारत सरकार एवं प्रदेश सरकार शत प्रतिशत लोगो को शिक्षित करने पर विशेष बल दे रही है एवं छात्र-छात्राओं को निशुल्क पाठ्य पुस्तके, भोजन, जूता-मोजा, यूनीफार्म एवं स्कूल बैग मुहैया करा रही है तो अविभावको का दायित्व बनता है कि वे अपने बच्चों को स्कूल जरूर भेजे।इस अवसर पर जिला अध्यक्ष शंकर दयाल पाण्डेय ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में प्रदेश सरकार ने जो कदम उठाया है वह बहुत की सराहनीय है।

उन्होने कहा कि सभी शिक्षक समय से स्कूल में पहुच कर बच्चों की शिक्षा पर विशेष ध्यान दें जिससे इस जनपद का चहुमुखी विकास हो सके।मण्डलीय खेल प्रतियोगिता में जनपद गोण्डा के इटियाथोक पूर्व माध्यमिक विद्यालय इटियाथोक के छात्र/छात्राओं ने योगा नृत्य प्रस्तुत कर लोगों का मन मोह लिया। जनपद श्रावस्ती के सिरसिया के मोतीपुर कला के जूनियर हाईस्कूल की छात्र/छात्राओं ने थारू नृत्य प्रस्तुत कर लोगों को ताली बजाने के लिए मजबूर का दिया।

मंत्री के खेल प्रतियोगिता के शुभारम्भ करने के दौरान उच्च प्राथमिक विद्यालय गोठवा की छात्राओं ने माॅ सरस्वती वंदना का बेहतर प्रस्तुतीकरण किया। देवीपाटन मण्डल के सभी जनपदों से आए बच्चों ने मार्च पास्ट किया। मुख्य अतिथि समेत अन्य अतिथियों ने सलामी लेकर बच्चों का उत्साहवर्धन भी किया। कार्यक्रम का संचालन जिला समन्वयक सर्व शिक्षा अभियान अजीत उपाध्याय ने किया।

मण्डलीय खेल प्रतियोगिता के शुभारम्भ के दौरान देवीपाटन मण्डल की सहायक शिक्षा निदेशक, चारों जनपदों बेसिक शिक्षा अधिकारीगण, रणवीर सिंह, दिवाकर शुक्ला एवं बहराइच/श्रावस्ती जनपद के अन्य मा0 जनप्रतिनिधिगण/पदाधिकारीगण एवं बेसिक शिक्षा परिवार के सदस्यगण उपस्थित रहे।

About Kanhaiya Krishna

Check Also

बसपा की विधायक भाजपा के इस कद्दावर महिला नेता पर कोर्ट से करायेगी मुकदमा !

जेपी यादव की रिपोर्ट : जौनपुर : विधायक सुषमा पटेल की दरखास्त पर पूर्व विधायक …

बहराइच : ट्रक ने मारी ठोकर, दो ट्राली पलटी, तीन घायल

संतोष मिश्र की रिपोर्ट : बहराइच : परसेन्डी पारले चीनी मिल को गन्ना ले जा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *