भाई-बहन के प्रेम संबंधों ने चार परिवारों को कर दिया तबाह, पढ़ें पूरी खबर

मुज़फ्फरनगर : यूपी के जनपद मुज़फ्फरनगर के तितावी थाना क्षेत्र के गांव हैदरनगर जलालपुर निवासी शिवानी पुत्री आजाद के प्रेम संबंधों ने चार परिवार बर्बाद कर दिए। दरअसल, शिवानी के अपने चचेरे भाई अनुज से काफी समय से प्रेम संबंध थे, जिसकी जानकारी परिवार में किसी को नहीं थी। 28 फरवरी को शिवानी की शादी फलावदा क्षेत्र के गांव समसपुर निवासी शैलेंद्र पुत्र उर्फ हैप्पी से हंसी-खुशी के माहौल में हुई। उस समय किसी को जरा भी भनक तक नहीं थी कि महज 10 दिन के भीतर इस शादी के चलते चार परिवार तबाह हो जाएंगे।

चचेरे भाई से प्रेम संबंधों के चलते शिवानी अपनी शादी से खुश नहीं थी। नतीजतन शादी के चार दिन बाद ही शिवानी ने चचेरे भाई अनुज से मिलकर चार मार्च की रात अपने पति हैप्पी की हत्या करा दी। हैप्पी शिवानी से मिलने अपनी ससुराल हैदरनगर आया था। शिवानी के भाई संजय ने अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी, जिसका पुलिस ने रविवार को खुलासा करते हुए शिवानी के चचेरे भाई अनुज को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

सूत्रों के अनुसार शिवानी व अनुज के प्रेम संबंधों और उनके चलते शैलेंद्र की हुई हत्या से पूरा परिवार बेहद गम और गुस्से में था। इसी के चलते रविवार शाम शिवानी के तहेरे भाई सुमित ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी और थाने पहुंचकर सरेंडर कर दिया। पूछताछ में सुमित का कहना था कि चचेरे भाई अनुज व शिवानी ने प्रेम संबंधों की आड़ में जिस तरह से बेकसूर हैप्पी की हत्या की, उससे पूरे परिवार की मान प्रतिष्ठा दांव पर लग गई।

इसके चलते उसके पास कोई चारा नहीं था। सुमित को शिवानी की हत्या का जरा भी अफसोस नहीं है। इस पूरे प्रकरण में जहां एक और समसपुर निवासी शैलेंद्र का परिवार बर्बाद हो गया, वहीं दूसरी और शिवानी की हत्या होने से हैप्पी व शिवानी की हत्या में उसके चचेरे व तहेरे भाइयों को जेल जाना पड़ेगा।

About Kanhaiya Krishna

Check Also

Ranji Trophy 2021-22, FINAL: मध्य प्रदेश ने रचा इतिहास, मुंबई को 6 विकेट से हरा पहली बार बनी रणजी चैंपियन

रणजी ट्रॉफी का फाइनल मुकाबला मध्य प्रदेश और मुंबई के बीच खेला गया। जहां 41 …

पाकिस्तानी आतंकी बाबर भाई मुठभेड़ में ढेर, 4 साल से था घाटी में एक्टिव

पाकिस्तानी आतंकी बाबर भाई मुठभेड़ में ढेर, 4 साल से था घाटी में एक्टिव

पाकिस्तानी आतंकी बाबर भाई मुठभेड़ में ढेर, 4 साल से था घाटी में एक्टिव जम्मू-कश्मीर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *