ऑक्सफ़ोर्ड में हुआ लेखिका मुक्ता महाजनी की किताब द कोड का लॉन्चिंग कार्यक्रम

 

ऑक्सफ़ोर्ड में हुआ लेखिका मुक्ता महाजनी की किताब द कोड का लॉन्चिंग कार्यक्रम
The launching program of the book, The Code by writer Mukta Mahajani in Oxford

एंटरटेनमेंट डेस्क-हिंदुस्तान हेडलाइंस

नई दिल्ली-दिल्ली के कनॉट प्लेस में ऑक्सफ़ोर्ड बुक स्टोर में लेखिका मुक्ता महाजनी की किताब ” द कोड ” का लॉन्चिंग कार्यक्रम हुआ। इस कार्यक्रम का आयोजन चैम्प रीडर्स एसोसिएशन और लीडिंग ट्रेल्स द्वारा किया गया।

इस लॉन्चिंग कार्यक्रम में सेकड़ो पाठको ने हिस्सा लिया और पाठको ने इस किताब को ख़रीदा व् लेखिका मुक्ता से इस्पे ऑटोग्राफ करवाये।

द कोड किताब की बात करे तो यह किताब आपको आपके जीवन में सकारात्मक बनाती है और आपकी सभी नकारात्मकता को समाप्त करती है। लेखिका मुक्ता महाजनी ने बताया इस किताब में सभी महापुरुषों और अलग अलग धार्मिक कोट्स को लिखा व् आसान सब्दो में उसकी व्याख्या की गई है। यह किताब आपको सकारात्मक बनाती है साथ ही यह किताब सभी उम्र के लोगो के लिए है सभी इसे आसानी से पढ़ और समझ सकते है। उन्होंने बातचीत में बताया की इस किताब को लिखने उन्हें करीब डेढ़ साल का समय लगा।

लेखिका ने इस किताब में हमारे जीवन में रोजमर्रा की परेशानियों से हम कैसे निकल सकते है छोटी छोटी कहानियो के जरिये बताया है। इस किताब को जैको बुक्स ने पब्लिश किया है। यहाँ मौजूद सभी पाठको ने लेखिका महाजनी की काफी सराहना की।

इस कार्यक्रम के आयोजक सागर आज़ाद (चैम्प रीडर्स एसोसिएशन)और हर्ष रावत (लीडिंग ट्रेल्स) ने बातचीत में बताया की उनकी कंपनी नए लेखकों को प्रमोट करने का काम करती है। उन्होंने कहा की बड़े लेखकों की किताबे तो लांच हो जाती है और प्रमोट भी लेकिन नए लेखकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

इसी को देखते हुए हमने इस कंपनी को बनाया जो नए लेखकों को प्रमोट करे। आगे उन्होंने कहा की उनकी कंपनी हर तरह से नए लेखकों को प्रमोट करती है और उनकी हर संभव सहायता करती है।

 

 

 

About Kanhaiya Krishna

Check Also

Respect Talent ने ओपन माइक के जरिये नए कलाकारों को दिया मंच

Respect Talent ने ओपन माइक के जरिये नए कलाकारों को दिया मंचRespect Talent gives platform …

अब इंतज़ार हुआ ख़त्म 4 दिन बाद होटल पार्क प्लाजा में होने जा रहा है फैशन एन्ड लाइफस्टाइल एक्सिबिशन

नई दिल्ली-दिल्ली में यु तो हर दिन कुछ न कुछ कार्यक्रम होते है लेकिन कुछ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *