Breaking News

जनपद में धूमधाम से मनाया गया सशस्त्र सेना झण्डा दिवस

प्रवीण कुमार मिश्रा की रिपोर्ट

श्रावस्ती /देश की रक्षा के लिए जिन वीर सपूतों ने अपने प्राणों की आहूति देकर देश व प्रदेश तथा जिले का नाम गर्व से ऊॅचा किया है। तथा भारत माॅ के ये जवांज वीर सपूत जब-जब हमारे देश में दैवीय आपदाओं के समय सहायता एवं पुनर्वास कार्यों की जरुरत समझी गयी है, इन सैनिकों की महत्वपूर्ण भूमिका रहती है एसे देशभक्त वीर सैनिकों एवं शहीद सैनिकों के परिवारों की समुचित देखभाल करना हम सभी का परम कर्तव्य है।

यह बात जिलाधिकारी दीपक मीणा ने सशस्त्र सेना झण्डा दिवस के शुभ अवसर पर कही,। उन्होने कहा कि सभी जनपद वासियों, सभी शासकीय एवं गैर शासकीय कार्यालय, अधिष्ठानों से अपील भी की है कि उक्त अवसर पर उदारतापूर्वक इस पुनीत कार्य में धनदान स्वरुप प्रदान करें। आज के दिन ही देश की जनता के पास सैनिकों के प्रति सम्मान करने का मौका रहता है, सैनिक, जो देश की रक्षा के लिए हमेशा डटे रहते हैं, उन्हें भी सम्मान का अनुभव कराए जाने के लिए सशस्त्र सेना झंडा दिवस मनाया जाता है, प्रतिवर्ष 7 दिसंबर को सशस्त्र सेना झंडा दिवस मनाया जाता है।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव ने कहा कि सशस्त्र झंडा दिवस देश की सुरक्षा में शहीद हुए सैनिकों के परिवार के लोगों के कल्याण के लिए मनाया जाता है. इस दिन झंडे की खरीद से इकठ्ठा हुए धन को शहीद सैनिकों के आश्रितों के कल्याण में खर्च किया जाता है.

इस अवसर पर समाज कल्याण अधिकारी/प्रभारी जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी, राकेश रमन ने जिलाधिकारी को टोकन फ्लैग लगाकर शुभारम्भ किया। तथा जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास कार्यालय के कर्मचारियों ने मिलकर अन्य अधिकारियों व कर्मचारियो ंतथा अन्य गणमान्य व्यक्तियो ंके स्टीकर फ्लैग लगाकर दानपात्र में धन संग्रहीत किया।इस अवसर पर सैनिक कल्याण की कनिष्ट सहायक सुमन लता, कनिष्ट लिपिक ईश्वर सिंह बिष्ट, राम औतार, समाज कल्याण विभाग के गंगाराम जायसवाल, देवेन्द्र सिंह सहित अन्य कर्मचारी उपस्थित रहे।

About Hindustan Headlines

Check Also

बसपा की विधायक भाजपा के इस कद्दावर महिला नेता पर कोर्ट से करायेगी मुकदमा !

जेपी यादव की रिपोर्ट : जौनपुर : विधायक सुषमा पटेल की दरखास्त पर पूर्व विधायक …

बहराइच : ट्रक ने मारी ठोकर, दो ट्राली पलटी, तीन घायल

संतोष मिश्र की रिपोर्ट : बहराइच : परसेन्डी पारले चीनी मिल को गन्ना ले जा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *