Supreme Court का फैसला- विश्वविद्यालयों के फाइल ईयर के होंगे एग्जाम, 30 सितंबर के बाद हो सकती है परिक्षाएं

नई दिल्ली : कोरोना महामारी के बीच एक्जाम कराए जाने को लेकर देश में जारी बहस के बीच आज सुप्रीम कोर्ट ने विश्वविद्यालयों के अंतिम वर्ष के विद्यार्थीयों की परीक्षा से जुड़े मामले में बड़ा फैसला सुनाया। सुप्रीम कोर्ट ने आज कहा कि विश्वविद्यालयों के फाइल ईयर के एग्जाम होंगे। कोर्ट ने कहा कि किसी राज्य को लगता है, उनके लिए परीक्षा कराना मुमकिन नहीं, तो वह UGC के पास जा सकता है। राज्य अंतिम वर्ष की बिना परीक्षा लिए विद्यार्थियों को प्रमोट नहीं कर सकते। 30 सितंबर तक परीक्षा करवाने के लिए UGC के फैसले पर सुप्रीम कोर्ट (SC) ने मुहर लगा दी है।

सर्वोच्च न्यायालय में न्यायमूर्ति अशोक भूषण, न्यायमूर्ति आर. सुभाष रेड्डी और न्यायमूर्ति एम.आर. शाह की खण्डपीठ ने कहा कि राज्य और यूटी स्वयं ही छात्रों को बिना परीक्षा पास नहीं कर सकते हैं। उन्हें कोविड-19 महामारी को देखते हुए यूजीसी से परीक्षाओं को स्थगित करने के लिए संपर्क करना होगा। खण्डपीठ ने कहा कि UGC दिशा-निर्देश को खत्म करने का निवेदन अस्वीकार कर दिया गया है। किसी राज्य विशेष में परीक्षाओं को रद्द करने के लिए आपदा प्रबंधन प्राधिकरण UGC के निर्देशों से उपर होंगे, लेकिन राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के पास विद्यार्थीयों को बिना परीक्षा तथा पिछले वर्षों के आधार पर पास करने का अधिकार नहीं है।

संपादक – सतीश भारतीय

About Kanhaiya Krishna

Check Also

IPL 13: रोमांचक मुकाबले में कोलकाता नाइटराइडर्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को 2 रन से हराया

आईपीएल सीजन 13 के 22वें दिन का पहला मुकाबला किंग्स इलेवन पंजाब और कोलकाता नाइटराइडर्स …

IPL 13: प्रियम गर्ग और नटराजन के दम पर सनराइजर्स हैदराबाद ने चेन्नई सुपर किंग्स को 7 रन से हराया, चेन्नई लीग में लगातार तीसरी हार

IPL 2020:  | Full Match Report आईपीएल सीजन 13 के चौदहवें दिन का मुकाबला चेन्नई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *