Ramayan के 'लक्ष्मण'
Ramayan के 'लक्ष्मण'

Ramayan के ‘लक्ष्मण’ ने सुनाया किस्सा, ‘दशरथ’ को देख कर डर गई थी ‘कौशल्या’

नई दिल्ली : कोरोनावायरस (Coronavirus India) के कारण देश भर में जब लॉकडाउन (India Lockdown) का ऐलान किया गया तो देश का मनोरंजन जगत भी लॉकडाउन हो गया। फिल्मों की शूटंग बंद हो गई और टीवी शोज के नए एपिसोड आने बंद हो गए। ऐसे में दूरदर्शन पर लौटा 90’S का दौर और रामायण (Ramayan) और महाभारत (Mahabharat) जैसे सीरियल्स DD National पर दुबारा टेलीकास्ट होने शुरू हुए। वहीं आज के समय में भी इन धार्मिक टीवी शोज का जबरदस्त ट्रेंड देखने को मिला और TRP के मामले में दूरदर्शन ने कई कीर्तिमान स्थापित किये। वहीँ रामायण और महाभारत जैसे सीरियल्स से जुड़े कलाकारों को लेकर भी लोगों में उत्सुकता बढ़ी है और लोग इन कलाकारों और इन टीवी शोज की शूटिंग से जुड़े किस्से सुनने को लेकर उत्सुक नज़र आ रहे हैं। ऐसे में रामायण के लक्ष्मण ने शो से जुड़ा एक दिलचस्प किस्सा शेयर किया है।

आपको बता दें कि रामायण में लक्ष्मण का किरदार सुनील लहरी (Sunil Lahri) ने निभाया था। इस शो में निभाए गए लक्ष्मण के किरदार से उन्हें काफी लोकप्रियता मिली और वो घर घर में पहचाने जाने लगे। इन दिनों जब शो का दुबारा प्रसारण हो रहा है, तो सुनील सोशल मीडिया पर इस शो से जुड़े दिलचस्प किस्से शेयर कर रहे हैं। एक ऐसा ही किस्सा उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर किया है, जिसमें उन्होंने दशरथ और कौशल्या से जुड़ा एक वाकिया बताया है।

सुनील लहरी ने कहा कि एक बार ऐसा भी हुआ कि दशरथ (बाल धुरी) को एक डरावना मॉस्क पहना दिया गया था। उसके बाद कौशल्या (जयश्री गाडकर) को उनके पास भेजा गया। दशरथ को उस रूप में देख कौशल्या इतना ज्यादा डर गई थीं कि वे बेहोश हो गईं। सुनील लहरी बताते हैं कि इस घटना से जयश्री ज्यादा खुश नहीं थीं। उन्होंने अपने पति को कहा था कि ऐसी हरकत के चलते उन्हें कुछ भी हो सकता था। उन्होंने बाल धुरी से ऐसा ना करने के लिए कहा था। बता दें कि असल जिंदगी में भी बाल धुरी और जयश्री पति-पत्नी थे।

लहरी ने एक और किस्सा शेयर किया है। उन्होंने बताया है कि जब वो गुजरात में केवट वाला सीन शूट कर रहे थे तब जबरदस्त गर्मी थी। ऐसी गर्मी थी हर किसी ने 50 गिलास पानी पिया था। सुनील के मुताबिक उस भीषण गर्मी में भी शूट पूरा किया गया था और किसी को बीच में बाथरूम जाने की भी जरूरत नहीं पड़ी। सुनील की माने तो सभी कलाकारों के पांव में छाले तक पड़ गए थे। बता दें कि केवट के जरिए ही राम-सीता और लक्ष्मण ने गंगा पार की थी।

About Kanhaiya Krishna

Check Also

विश्व और भारत का सबसे लंबा ऑनलाइन मानव संसाधन प्रशिक्षण मैराथन प्रणव खरबंदा द्वारा किया गया

शिक्षा के रूप में इस उद्धरण को बनाने की “ शिक्षा स्वतंत्रता के स्वर्ण द्वार …

ऑक्सफ़ोर्ड बुक स्टोर में हुआ नूपुर लूथरा की किताब साइलेंट मर्डर किताब का विमोचन

एंटरटेनमेंट डेस्क-हिंदुस्तान हेडलाइंस नई दिल्ली: दिल्ली के दिल कनॉट प्लेस में लेखिका नूपुर लूथरा की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *