जैश-ऐ-मोहम्मद के सरगना मसूद अज़हर Hindustan Headlines

मौत की अफवाह पर मसूद अज़हर ने लगाया विराम, जारी किया ऑडियो क्लिप

नई दिल्ली : मोस्ट वांटेड आतंकी व आतंकी संगठन जैश-ऐ-मोहम्मद के सरगना मसूद अज़हर की मौत को लेकर जारी तमाम तरह की अटकलों पर विराम लग गया है। मौत की अफवाह पर मसूद अज़हर ने खुद विराम लगाया है। मसूद ने ने एक ऑडियो क्लिप जारी किया है, जिसमें वो खुद के जिन्दा होने की बात कर रहा है। अजहर की इस क्लिप को जैश के कई ग्रुप्‍स पर रिलीज किया गया है जो कि पूरी तरह एनक्रिप्‍टेड हैं।

यह ऑडियो क्लिप 10 मिनट से कुछ ज्‍यादा की है। इस क्लिप में अजहर ने उस समय का जिक्र किया है जब उसे भारत की जेल में रखा गया था। मौलाना मसूद अजहर को 90 के दशक में गिरफ्तार करके जम्‍मू की कोटल बहावल जेल में रखा गया था। अजहर की मानें तो पाकिस्‍तान, भारत के दबाव में आकर कार्रवाई कर रहा है।

इस ऑडियो क्लिप को चार मार्च को रिकॉर्ड किया गया था। इस ऑडियो क्लिप में कहा गया है, ‘मेरी मौत के बारे में काफी खबरें हैं लेकिन सिर्फ अल्‍लाह तय करेगी कि मैं कब तक जीऊंगा और कब मरूंगा।’ अजहर ने यह भी कहा है कि वह संगठन के काम के साथ बहुत करीब से जुड़ा हुआ है।

अजहर ने इसके साथ ही एक नई धमकी भी दी है। उसने मुसलमानों और मदरसों पर हो रहे हमलों को रोकने के लिए कहा है। उसने कहा है, ‘खुदा से डरना चाहिए।’ अजहर की मानें तो पाकिस्‍तान में रह रहे लिबरल्‍स मदरसों पर हमले करा रहे हैं और उसने इन लोगों को चेतावनी भी दी है।

अजहर ने पाक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी पर भी हमला बोला। कुरैशी ने कहा था कि उनके अधिकारी जैश के संपर्क में हैं। अजहर के मुताबिक कुरैशी दबाव में आकर यह बात कह रहे हैं जबकि ऐसा कुछ भी नहीं है। अजहर ने कहा है कि पाकिस्‍तान की सरकार को जैश को वैसे ही स्‍वीकारना पड़ेगा जैसा कि वह है।

बुधवार को जब यह ऑडियो क्लिप रिलीज हो रही थी तो पाकिस्‍तान सेना की ओर से भी एक बयान जारी किया जा रहा था। इस बयान को पाक सेना की मीडिया विंग आईएसपीआर की ओर से जारी किया गया था। इसके मुताबिक जैश-ए-मोहम्‍मद पाकिस्‍तान में है ही नहीं। आईएसपीजी के डीजी, मेजर जनरल आसिफ गफूर की ओर से यह बात कही गई है।

About Kanhaiya Krishna

Check Also

ऑक्सफ़ोर्ड बुक स्टोर में हुआ नूपुर लूथरा की किताब साइलेंट मर्डर किताब का विमोचन

एंटरटेनमेंट डेस्क-हिंदुस्तान हेडलाइंस नई दिल्ली: दिल्ली के दिल कनॉट प्लेस में लेखिका नूपुर लूथरा की …

Meet Abhijita Gupta, the youngest writer in the country, at the age of just 7, many records were recorded

मिलिए देश की सबसे छोटी लेखिका अभिजिता गुप्ता से,महज़ 7 साल की उम्र में अपने नाम दर्ज़ किये कई रिकॉर्ड

मिलिए देश की सबसे छोटी लेखिका अभिजिता गुप्ता से,महज़ 7 साल की उम्र में अपने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *