सहरसा : निर्दोष लोगों को झूठे केस में फसाये जाने के विरोध में अनशन,  दो महिला की हालत बिगड़ी 

गौतम कुमार गोविंद की रिपोर्ट 

सहरसा: सत्तर कटैया प्रखंड क्षेत्र के सिहौल चौक पर गुरुवार से सिहौल के कुछ ग्रामीण व महिला अनशन पर बैठे है।बिहरा थाना कांड संख्या 57/16 में निर्दोष लोगों को सताए जाने के कारण अनशन पर बैठे हैं। अनशनकारियों ने बताया कि अनिल मुखिया हत्याकांड में हमारे परिवारों को झूठे मुकदमे में फंसाकर सताया जा रहा है। हम लोगों को घर से बेघर कर दिया गया है।जब हम लोग घर पर रहते हैं तो हम लोगों को अनिल मुखिया के समर्थकों व परिवार के द्वारा सताया जाता है. घर को भी जला दिया है, हमलोग बेघर हो गए।  हम लोग पुलिस प्रशासन से गुहार लगाते-लगाते थक चुके हैं। हम लोगों की कहीं भी कोई सुनवाई नहीं होती है।

कल से अनशन पर बैठे पबिया देवी, बदाम देवी कि हालत बहुत खराब हो चुकी है, जिसे PHC पंचगछिया द्वारा भेजे गए डॉक्टर के माध्यम से स्लाइन चढ़ाया जा रहा है। अनशनकारियों ने बताया कि अभी तक हम लोगों को देखने के लिए या हम लोगों के मामले को सुनने के लिए कोई नहीं पहुंचा है ।

बिहरा थाना कांड संख्या 57/16 के आरोपी पवन कामत जिनकी मां अनशन पर अपने पुत्र के रिहाई के लिये अनशन पर बैठी है। उन्होंने बताया कि हम लोगों के साथ बहुत ही बड़ी नाइंसाफी की जा रही है ।प वन कामत जो अभी सहरसा जेल में बंद है वह निर्दोष है , उनको झूठे मुकदमे में फंसाकर हमारे सभी परिवार को सताया जा रहा है। पवन कामत के पांच बच्चे हैं जो दर-दर भटक रहे हैं।

अनशनकारियों ने  झूठे केस में फंसाए गए विस्थापित परिवारों को पुनःनिजी आवास पर बसाये जाने और उजाड़े गए घर की समुचित व्यवस्था किये जाने की मांग की. अनशनकारियों ने बताया कि प्रतिदिन तारी, दारू, गांजा व अन्य नशा खिलाकर हम लोगों के साथ बुरा बर्ताव करवाया जाता है, गाली गलौज व जान से मार दिए जाने की धमकी दी जाती है, लिहाज़ा प्रतिरक्षा हेतु स्थाई पुलिस कैंप की व्यवस्था की जाए, बिहरा थाना कांड संख्या 57/16 कांड की सीबीआई जांच की जाए, एवं झूठे आरोप कांड से निर्दोष करार दिया जाए, और दोषी को सजा दिया जाए, बिहरा थाना कांड संख्या 58/16,194/16 एवं 09/17 के वंचित अभियुक्तों की गिरफ्तारी हो, बिहरा थाना कांड संख्या 57/16 के तहत न्यायिक हिरासत में बंद अभियुक्त पवन कामत व अन्य के साथ उचित न्याय कर जेल से बाहर निकाला जाए.

अनशनकारियों ने बताया कि जब तक उपरोक्त मांगे पूरी नहीं हो जाती है तब तक अनशन जारी रहेगा। हम लोग बिना अन्न-जल के अनशन पर बैठे रहेंगे। शुक्रवार के रोज अनशनकारियों की हालत को देखते हुए सत्तर कटैया प्रखंड प्रमुख कृष्ण कुमार उर्फ माखन यादव, पश्चिमी जिला परिषद पति प्रवीण आनंद, जनअधिकार पार्टी के प्रखंड अध्यक्ष अरविंद यादव ने पहुंचकर अनशनकारियों से बातचीत की और मांगों को पूरा करने का भरोसा दिया।

अनशनकारी सुरेंद्र मुखिया, बैजनाथ साह ,भूषण मुखिया, शिवनारायण मुखिया ,कीर्ति मुखिया,संजीव मुखिया, राजाराम मुखिया,बदाम देवी,बबिया देवी ,फुसयाही देवी आदि सभी गुरुवार से अनशन पर बैठे हुए हैं। खबर लिखे जाने तक अनशनकारी अनशन पर बैठे हुए हैं।

About Kanhaiya Krishna

Check Also

BIHAR BOARD के 10वीं का रिजल्ट जारी, ऐसे देखे अपना रिजल्ट

आज बिहार बोर्ड स्कूल एग्जामिनेशन के Matric result 2019 जारी कर दिया है। इस परीक्षा …

सैय्यद महमूद अशरफ ने बहादुरगंज में किया NDA कार्यलय का उद्घाटन

सैय्यद महमूद अशरफ ने बहादुरगंज ब्लॉक चौक शिव मंदिर के पास किया NDA कार्यलय का उद्घाटन

बिहार-बहादुरगंज सैय्यद महमूद अशरफ ने बहादुरगंज ब्लॉक चौक शिव मंदिर के पास एनडीए कार्यलय का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *