महिलाओं और किशोरियों की प्रस्तुति ने किया मंत्रमुग्ध

सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से ग्रामीणों और आदिवासियों के मुद्दे को किया उजागर

राज कुमार गुप्ता की रिपोर्ट

वाराणसी मिर्जामुराद : गाँव की किशोरियों ने जब ‘वन बिलियन राइजिंग’ और ‘गाँव छोड़ब नाही’ जैसे गीतों पर अपनी सांस्कृतिक प्रस्तुति तो पूरा पंडाल तालियों की गड़गड़ाहट से गुंजायमान हो उठा। ये नज़ारा रहा, आज आदर्श ग्राम नागेपुर में लोक समिति के रजत जयंती महोत्सव ‘परिवर्तन का आगाज़’ का समापन समारोह में, जिसमें पचास से अधिक अलग-अलग गाँव से आई महिलाओं और किशोरियों ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया और एक से बढ़कर एक आदिवासियों के विस्थापन, दहेज, लैंगिक भेदभाव, महिला सशक्तिकरण, कन्या भ्रूण हत्या, नशा के खिलाफ़ जैसे सामाजिक संदेशों से भरपूर सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी और अपने भाषणों के ज़रिए अपने विचार साझा किए।

 

लोक समिति पिछले पच्चीस सालों से लगातार समाज मे सकारात्मक बदलाव लाने और हाशिये पर रहने वाले समुदायों को मुख्यधारा से जोड़ने से लिये ग्रामीण क्षेत्रों में काम कर रही और जिसके पच्चीस साल पूरे होने पर इसके दो दिवसीय रजत जयंती महोत्सव ‘परिवर्तन का आगाज़’ का आयोजन नागेपुर में किया गया, पहले दिन जहां बच्चों और युवाओं ने अपनी सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी , वहीं आज का समापन समारोह गाँव की महिलाओं और किशोरियों को समर्पित रहा। साथ ही, इस कार्यक्रम में समाजसेवा, शिक्षा और समाज मे सकारात्मक बदलाव लाने वाले बच्चों, युवाओं, किशोरियों, महिलाओं और विशिष्टजनों को सम्मानित भी किया गया।

रजत जयंती के समापन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि मा. सुरेंद्र पटेल (पूर्व राज्य मंत्री) ने दीप प्रज्वल्लन करके किया।

सुरेंद्र पटेल ने कहा कि ग्रामीण महिलाओं और किशोरियों का मंच पर पूरे आत्मविश्वास के साथ सांस्कृतिक प्रस्तुति देना और अपने विचारों को साझा समाज मे होने वाले सकारात्मक बदलाव और महिला सशक्तिकरण का सूचक है। वहीं लोक समिति ने संयोजक नन्दलाल मास्टर ने कहा कि जब इतने सीमित संसाधनों में गांव की महिलाएं और किशोरियां इतने बेहतर और प्रभावी ढंग से आने विचारों और अनुभवों को साझा कर सकती है तो पर्याप्त संसाधनों और अवसरों में ये अपने जीवन और समाज के लिए कितना बेहतर कर सकती है इसपर न केवल हमें सोचने की बल्कि काम करने की भी ज़रूरत है। कार्यक्रम का संचालन नीति और महेंद्र ने किया।

 

कार्यक्रम में लोक चेतना समिति की निदेशिका रंजू सिंह, ज्वाइंट कमिश्नर ए के सिंह और शहर के जानेमाने समाजसेवी, शिक्षाविद और सम्मानितगण मौजूद रहे।

About Hindustan Headlines

Check Also

लखीमपुर हिंसा केस का मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा क्राइम ब्रांच के सामने पेश

लखीमपुर हिंसा केस का मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा क्राइम ब्रांच के सामने पेश

रिपोर्ट : सलिल यादव लखीमपुर हिंसा केस के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा जांच एजेंसी के …

कानपुर : बाहुबली अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन को AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी देंगे टिकट कानपुर से लड़ेंगी चुनाव

कानपुर : बाहुबली अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन को AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी देंगे टिकट कानपुर से लड़ेंगी चुनाव

रिपोर्ट : सलिल यादव   पूर्व सांसद अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन कानपुर से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *