Breaking News

बीजेपी सरकार पर शंकराचार्य स्वरूपानंद का बड़ा आरोप

बीजेपी सरकार पर शंकराचार्य स्वरूपानंद का बड़ा आरोशंकराचार्य स्वरूपानंद
प्रयागराज में मीडिया से बात करते हुए शंकराचार्य

 द्वारकेश बर्मन की रिपोर्ट

प्रयागराज।शंकराचार्यस्वरूपानंद ने कहा कि राम मंदिर निर्माण को लेकर अध्यादेश लाने की जो बात की जा रही है, वह भी लोगों को धोखा देने व गुमराह करने की ही कोशिश है।

“राम मंदिर के नाम पर लोगों को धोखा देकर गुमराह कर रही है बीजेपी सरकार”-स्वरूपानंद

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर द्वारिका पीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने
केंद्र की मोदी सरकार और भारतीय जनता पार्टी पर एक बार फिर करारा प्रहार किया है उन्होंने बोला है कि ,मोदी सरकार और भारतीय जनता पार्टी राम मंदिर के नाम पर मासूम जनता और रामभक्तों को धोखा दे रही है और उन्हें गुमराह करने की कोशिश की जा रही है। प्रयागराज में मीडिया से बात करते हुए शंकराचार्य स्वरूपानंद ने कहा कि राम मंदिर निर्माण को लेकर अध्यादेश लाने की जो बात की जा रही है, वह भी लोगों को धोखा देने व गुमराह करने की ही कोशिश है, क्योंकि कोई भी चुनी हुई सरकार, जो कि संविधान के शपथ लेती है वह कोई भी धार्मिक स्थल बनवा ही नहीं सकती है, क्योंकि संविधान की शपथ लेने के बाद वह धर्मनिरपेक्ष हो जाती है।

उन्होंने अयोध्या और प्रयागराज के श्रृंगवेरपुर में भगवान राम की भव्य प्रतिमा लगाए जाने के एलान को भी गलत बताया और कहा कि लोगों को अब राम मंदिर चाहिए और रामभक्त अब पुतले से संतोष नहीं करेंगे। उनके मुताबिक़ भगवान राम के पुतले लगाए जाने से राम मंदिर निर्माण के रास्ते बंद किये जा रहे हैं।

शंकराचार्य स्वरूपानंद ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए और मौजूदा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी सरकार के खिलाफ पैदा हुए जनाक्रोश से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए ही मंदिर का मुद्दा एक बार फिर से गरमाया जा रहा है। इसमें भटकाव पैदा किया जा रहा है भाजपा वोट कमाने के लिए राम लला को भुनाती आई है और जब अपने इस आडम्बर में फस गई तो अब जजमेंट का इंतजार और अध्यादेश लाने के प्रलोभन जैसी बयानबाजी कर फिर आस्था से खिलवाड़ करने में जुटी है।

उन्होंने हिंदुस्तान हेडलाईन के माध्यम से जनता से अपील कि जो पार्टी राम मंदिर निर्माण और दूसरे मुद्दों पर जनता से किया गया वायदा पूरा न कर रही हो और पिछले चुनाव के अपने घोषणा पत्र को सत्ता पाते ही रद्दी समझहने लगे उसपर अमल न करे, अगले चुनाव में उसके खिलाफ वोट करना चाहिए…?? उन्होंने साफ़ तौर पर कहा है कि अगर उनकी इस अपील की वजह से बीजेपी को चुनाव में हार का सामना करना पड़ता है तो भी उन्हें लेश मात्र भी इसकी परवाह नहीं होगी।

About Hindustan Headlines

Check Also

मध्य प्रदेश-राजस्थान और छत्तीसगढ़ में सरकार गठन के तुरंत बाद मुख्यमंत्रियों ने लिए कई बड़े फैसले

नई दिल्ली : मध्य प्रदेश-राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार के गठन के बाद राज्यों …

1984 सिख विरोधी दंगा : उम्रकैद की सजा पाने के बाद कांग्रेस के ‘सज्जन’ का पार्टी से इस्तीफ़ा

नई दिल्ली : 1984 सिख विरोधी दंगे में उम्रकैद की सजा पाने के बाद कांग्रेस …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *