Breaking News

कलाकारों द्वारा किया गया बुन्देली मोनिया नृत्य

 

बालमुकुन्द रायक्वार की रिपोर्ट

 

झांसी जनपद के पूंछ थाना क्षेत्र के ग्राम सिकंदरा की समथर मोड़ पर चल रहे रतनगढ़ माता मंदिर को जाने वाले यात्रियों के लिए लगे हुए लंगर के आयोजन में आज सुबह बुंदेली मोनिया नृत्य के कलाकारों ने आकर कार्यक्रम में एक नया जोश नया रंग भर दिया दीपावली के अगले दिन परमा के दिन से ग्राम सिकंदरा में प्रति वर्ष सार्वजनिक लंगर का भव्य आयोजन किया जाता है इसी क्रम में इस वर्ष भी ग्राम के श्रद्धालुओं द्वारा ग्राम में विशाल भंडारे का आयोजन किया गया  जिसमें मध्य प्रदेश के ग्राम मुस्तरा तहसील भांडेर जिला दतिया के मोनिया नृत्य कलाकारों ने आकर के अपनी कला का प्रदर्शन किया जिसमें अलग अलग मुद्राओं में दडाओ का टकराव एवं लाठी बाजी की प्राचीन कला लोगो को देखने को मिली इसके साथ ही नृत्य की टोली में दशरथ सिंह राजपूत बनवाली गुलचाई पर्वत सिंह घनश्याम मातादीन खुशी राम मास्टर बनवाली बेहरूपिया देव सिंह आदि ने अपनी अपनी कला का हुनर दिखाया इसके साथ ही जानकारी देते हुए बताया की मोनिया नृत्य द्वापर युग से चला आ रहा है मोनिया नृत्य जोकि भगवान कृष्ण के रूप में स्वयं नारायण ने चरवाहा का रूप धर विविध प्रकार के स्वांग रचा कर उस समय इस परंपरा की न्यू डाली थी जोकि आज भी प्रचलन में है मोनिया नृत्य में सम्मिलित लोग विजयदशमी से मौन धारण करके दीपावली की परमा के दिन तक मौन व्रत कर विभिन्न देवी-देवताओं के दर्शन करते हैं इसके साथ ही जगह-जगह घूम घूम कर अपने करतब दिखाते जो भी इस व्रत को संकल्प लेकर करता है उसको 12 वर्ष तक इसको निभाना पड़ता है उसके बाद मथुरा जाकर के अपने दडो को विसर्जित करना पड़ता है इस दौरान कार्यक्रम के कार्यकर्ता एवं सैकड़ों दर्शक मौजूद रहे।

Check Also

कुश्ती में पहलवानों ने आजमाएं दांव पेंच,प्राचीन मेले का हुआ समापन

  बालमुकुन्द रायक्वार की रिपोर्ट   बुन्देलखण्ड के झांसी जनपद के पूछ थानान्तर्गत ग्राम महाराजगंज …

शिवपाल यादव ने मुलायम को उनके जन्मदिन पर दिया ये ख़ास तोहफा

लखनऊ : उत्तर-प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री, सपा के पूर्व प्रमुख और वर्तमान में सपा संरक्षक, …