दिग्गज बसपा नेता मुकुल उपाध्याय को पार्टी से 6 साल के लिए किया गया निष्कासित

लखनऊ : बसपा सुप्रीमों मायावती ने बड़ा कदम उठाते हुए पार्टी के कद्दावर नेता मुकुल उपाध्याय को बसपा से 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया है। पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त रहने के आरोप में उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया गया है। मुकुल उपाध्याय पूर्व ऊर्जा मंत्री रामवीर उपाध्याय के भाई हैं और वो पूर्व में एमएलसी भी रह चुके हैं।



अलीगढ़ मंडल के मुख्य जोन इंचार्ज रणवीर सिंह कश्यप व जिलाध्यक्ष तिलकराज यादव ने बताया कि जिला इकाई ने मुकुल उपाध्याय के पार्टी में अनुशासनहीनता व पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त रहने की शिकायत हाईकमान से की थी। जिसके बाद यह कार्रवाई की गई है।



बता दें कि मुकुल उपाध्याय ने जिला अलीगढ़ की राजनीति में 2004 में कदम रखा था। चौ. बिजेंद्र सिंह के लोकसभा चुनाव जीतने पर खाली हुई इगलास विधानसभा सीट पर उप्र चुनाव हुआ था। इसमें बसपा प्रत्याशी मुकुल उपाध्याय ने रालोद के पूर्व विधायक चौ. मलखान सिंह को हराकर पहली बार बसपा का खाता खोला था। 2008 में सुनील सिंह को हराकर मुकुल एमएलसी बने थे। 2014 में मुकुल ने बसपा के टिकट पर ही गाजियाबाद लोकसभा सीट पर चुनाव लड़ा, मगर जीत नहीं पाए।


About Kanhaiya Krishna

Check Also

गैंगस्टर का इनामी वांछित गिरफ्तार

चन्दौली चकिया कोतवाली पुलिस को मंगलवार के दिन गैंगेस्टर में वांछित चल रहे पांच हजार …

बसपा प्रत्याशी अधिवक्ता सतीश कुमार ने भरा नॉमिनेशन,पार्टी कार्यकर्ताओं में दिखा जोश

लोकसभा चुनाव 2019 का आगाज़ जोरो शोरो के साथ हो चुका है ।लोकतंत्र के इस …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *