सौ कुन्तल तक धान बेचने के लिए सत्यापन की जरुरत नहीं,अवकाश में भी होगी खरीद-जिलाधिकारी

 

अब जिले में किसी भी केंद्र पर धान बेच सकता है किसान

 

लघु एवं सीमांत कृषकों के लिए मंगलवार व शुक्रवार का दिन तय

 

संतोष शर्मा की रिपोर्ट

बलिया। धान खरीद में धान बेचने से पहले सत्यापन जैसी दिक्कतों का सामना करने वाले किसानों को बड़ी राहत मिली है। अब 100 कुंतल तक धान बेचने वाले किसानों का पहले सत्यापन जरूरी नहीं होगा। अब किसान अपना धान जिले के किसी भी केंद्र पर दे सकता है। इसके लिए केंद्र से सम्बद्ध गांवों का संबद्धीकरण निरस्त कर दिया गया है। इसके अलावा लघु एवं सीमांत कृषको का धान विशेष रूप से मंगलवार और शुक्रवार को खरीदा जाएगा। यही नहीं, सार्वजनिक अवकाश के दिनों में भी धान की खरीद केंद्रों पर होगी। माना जा रहा है कि इस निर्णय से किसानों को काफी राहत मिलेगी। इसी संबंध में जिलाधिकारी भवानी सिंह खंगारौत ने कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक कर धान खरीद से जुड़े अधिकारियों को कड़े निर्देश भी दिए।

 

जिलाधिकारी ने बताया कि किसानों की दिक्कतों को देखते हुए शासन की ओर से यह निर्णय लिया गया है। सत्यापन से किसानों को धान बेचने में काफी परेशानी हो रही थी। किसानों की सुविधा का हरसंभव ख्याल रखा जा रहा है। इससे पहले होता यूं था कि धान क्रय केंद्र पर धान बेचने से पहले सत्यापन होता था। क्रय केंद्र से कुछ गांवों को संबंध किया गया था और उन गांवों की खरीद उसी क्रय केंद्र पर होनी थी। जिलाधिकारी ने इस को निरस्त करते हुए स्पष्ट किया है कि अब किसान अपना धान अपनी सुविधानुसार किसी भी क्रय केंद्र पर दे सकता है। लघु एवं सीमांत कृषकों के धान की खरीद के लिए विशेष तौर पर मंगलवार और शुक्रवार का दिन तय किया गया है।

About Hindustan Headlines

Check Also

पिछले लोकसभा चुनाव के अपेक्षा इस बार अच्छा रहा मतदान प्रतिशत-जिला निर्वाचन अधिकारी

चन्दौली  जिलाधिकारी/जिलानिर्वाचन अधिकारी  नवनीत सिंह चहल व पुलिस अधीक्षक सन्तोष कुमार सिंह ने जनपद में …

सीएचसी सेमरियावां व पीएचसी बघौली को मिलेगा कयाकल्प अवार्ड

सेमरियांवा को मिला सीएचसी लेवल पर प्रदेश में अट्ठाइसवां स्‍थान, स्‍कोर 71.8 बघौली को मिला …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *