Breaking News

कटिहार : पूर्व हेडमास्टरनी ने बच्चों के खाने में जहर मिलाने की दी धमकी, जानिए क्या है पूरा मामला

तौक़ीर रज़ा की रिपोर्ट :

कटिहार : सरकार शिक्षा व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए भले ही लाख कोशिश करें मगर शिक्षक अपनी दबंगई चलाने और धमकी देने से पीछे नहीं हट रहे हैं। ऐसा ही एक मामला कटिहार जिले के बरारी प्रखण्ड अन्तर्गत प्राथमिक विद्यालय दुर्गापुर जहूर टोला का है। यहां पूर्व हेडमास्टरनी और वर्तमान हेडमास्टरनी से पद को लेकर कई सालों से विवाद चल रहा है। विवाद इतना बढ़ा की पूर्व हेडमास्टरनी स्कूल में पढ़ रहे बच्चों के खाने में जहर देकर वर्तमान हेडमास्टरनी को फसाने की बात करने लगी। जब जहर मिलाने की बात बच्चों तक पहुंची तो बच्चे अपने अभिभावक को बताया। अभिभावक तक बात पहुंचते ही अभिभावक विद्यालय में पहुंच कर पूर्व हेडमास्टरनी के विरुद्ध कार्यवाई की मांग करने लगे।

गौरतलब है कि वर्ग 4, वर्ग 5, वर्ग 3 के छात्र छात्रा ने बताया कि पूर्व हेडमास्टरनी तरन्नुम खातून हम लोगों के खाना में जहर मिला कर रंजना हेडमास्टरनी को फसां कर हेडमास्टर का पद हासिल करना चाहती है और बात बात में पूर्व हेडमास्टरनी वर्तमान हेडमास्टरनी को चप्पल से मारने भी लगती है। हद तो तब हो गई जब इन दोनों का विवाद की जानकारी बरारी प्रखण्ड शिक्षा मिली मगर अधिकारी जाँच तक करने नहीं पहुंची और इन दिनों इन दोनों का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। ऐसे में यहां पढ़ रहे बच्चों की भविष्य अंधकार की ओर बढ़ रही है। जिला प्रशासन अविलम्ब इस विद्यालय की ओर कदम उठाने का प्रयास करें ताकि कोई बड़ी घटना होने से बच सके।

आपको बता दें कि प्रधान अध्यापिका रंजना सिन्हा ने पत्रकारों को बताया कि बच्चे जो खाने में जहर देने की बात कर रहे हैं, यह पूरी तरह से सही है। पहले तरन्नुम मैडम ही प्रधान अध्यापिका थी। वह 8 वर्ष से इस पद पर बनी रही। जब विभाग का यह आदेश आया कि जो सीनियर होंगे वहीं प्रधान अध्यापक बनेंगे, जब से मैं इस पद पर हूँ। तभी से पूर्व प्रधान अध्यापिका पद पर पुनः आने के लिए हमारे साथ तरह तरह की आरोप लगा रही है। कह रही है ऐसे तो अधिकारी विद्यालय नहीं आते हैं। खाने में जहर मिला देंगे। जब घटना होगी तब तो अधिकारी आएंगे न। कभी कभी तो पूर्व हेडमास्टरनी हमारे साथ विद्यालय में मार पीट भी करने लगती है। इन सारी घटना की जानकारी बरारी बीईओ को दिया मगर अब तक कोई कार्यवाई नहीं हो रही है। अब जिले के आला अधिकारियों को चाहिए कि इस मामले की अबिलम्ब जाँच कर मामले की तहकीकात करें कि इस मामले में कितनी सच्चाई है।

About Kanhaiya Krishna

Check Also

मझौलिया : भूमि विवाद में चली गोली, इलाज के दौरान हुई एक की मौत

राजू शर्मा की रिपोर्ट मझौलिया (पश्चिमी चंपारण) : स्थानीय मझौलिया थाना क्षेत्र की रामपुरवा महनवा …

कटिहार : गणतंत्र दिवस की तैयारी को लेकर डीएम ने दिए निर्देश

तौक़ीर रज़ा की रिपोर्ट : कटिहार : गणतंत्र दिवस की तैयारी को लेकर समाहरणालय के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *