चिकित्सा व्यवस्था को हाईटेक करने के लिए एएनएम को मिलेंगे टैबलेट

जिले के सभी उपकेन्‍द्रों के लिए 183 एएनएम तथा शहरी क्षेत्र की 5 एएनएम को बटेंगे टैबलेट

चुनाव अधिसूचना समाप्‍त होने के बाद वितरित होने वाले टैबलेट में दर्ज की जाएंगी सारी जानकारियां

रिपोर्ट-संदीप पाण्डेय

संतकबीरनगर। 17 मई 2019

ग्रामीण तथा शहरी क्षेत्र में चिकित्सा व्यवस्था को  हाईटेक करने के लिए अब एएनएम को टैबलेट दिए जायगे। कभी हाथों में रजिस्टर और कलम रखने वाली एएनएम अब टेबलेट चलाती नजर आयेगी। लेनेवो कम्‍पनी के ये टैबलेट जिले पर आ गए हैं और चुनाव के बाद एएनएम को वितरित कर दिया जाएगा।

सीएमओ डॉ हरगोविन्‍द सिंह ने बताया कि राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मिशन की योजना के तहत जिले में कुल 189 टैबलेट आए हैं। इन टैबलेट में से विभिन्‍न उपकेन्‍द्रों पर काम करने वाली 183 एएनएम को टैबलेट दिए जाएंगे। साथ ही शहरी क्षेत्र में काम करने वाली 5 एएनएम को भी टैबलेट्स दिए जाएंगे। जबकि 1 टेबलेट डिस्ट्रिक्ट कम्युनिटी प्रोसेसमैनेजर को दिया जाएगा। जिसके जरिए वे सूचनाओं का आदान प्रदान करेंगे। चुनाव अधिसूचना समाप्‍त होने के बाद इन टैबलेट्स का वितरण कर दिया जाएगा।रजिस्‍टर के बोझ से मिलेगी मुक्ति जिले में चल रही ।स्वास्थ्य योजनाओं की गाँव में क्या-क्या प्रगति हो रही है इसकी एक रिपोर्ट एएनएम बनाती है इस पूरी रिपोर्ट को एक रजिस्टर में दर्ज कर स्वास्थ्य विभाग को सौंपा जाता है।  इस पूरी प्रक्रिया में समय लगता है। अब ऐसा कुछ नहीं होगा ।ऑनलाइन प्रक्रिया के तहत अब सारी जानकारी स्क्रीन पर उपलब्ध रहेगी । टेबलेट  में ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन डाटा दर्ज करने की सुविधा भी उपलब्ध है। गोपनीयता के लिहाज से प्रत्येक टेबलेट का अपना एक आइएमईआई नंबर होगा, ताकि यह एप किसी अन्य मोबाइल व अन्य टेबलेट पर काम न कर सके।टैबलेट में दर्ज होंगी सारी गतिविधियां।इस योजना के तहत एएनएम को टेबलेट में सारी जानकारियाँ दर्ज करानी होंगी ।टेबलेट में अनमोल एप में एएनएम को अपने प्रतिदिन के कार्यों की जानकारी दर्ज करनी होगी । उन्होने किन गाँव का भ्रमण किया है । कहाँ कहाँ अपनी सेवाए दी हैं। कितने योग्य दंपत्ति हैं । गर्भवती व धात्री महिलाएं तथा बच्चे  कितने हैं । बच्चे किस श्रेणी के हैं। कितने बच्चों का टीकाकरण हुआ है और किनका होना है। गाँव में कौन सा रोग फैला है तथा कितने लोग बीमार हैं। इससे  संबन्धित  जानकारियाँ टेबलेट में दर्ज करनी होंगी।टैबलेट चलाने का होगा प्रशिक्षण टैबलेट चलाने के लिए स्वास्थ्य विभाग ए.एन.एम. को प्रशिक्षण भी देगा । इसमें एएनएम गांव की रिपोर्ट देंगी और बताएगी कि गांव में कितने लोग बीमार हैं और कौन सा रोग है। इससे फ़र्ज़ी रिपोर्टिंग पर भी पूरी तरह से अंकुश लगेगा। एएनएम  को दिये जाने वाले टैबलेट में 3 सॉफ्टवेयर अनमोल, एनसीडी तथा आईडीएसपी हैं । अनमोल सॉफ्टवेयर में गांव की गर्भवती माताओं तथा बच्चों का विवरण होगा। वहीं एनसीडी सॉफ्टवेयर में कैंसर, ब्लड प्रेशर, सुगर, मानसिक रोगी तथा हाइपरटेंशन आदि का विवरण होगा । जबकि आईडीएसपी सॉफ्टवेयर में कुष्ठ रोगी, मलेरिया, टाइफाइड, डेंगू आदि रोगों का विवरण उपलब्ध रहेगा।

About Hindustan Headlines

Check Also

योग एक कला है जो हमारे शरीर,मन और आत्मा को एक साथ जोड़ता है-राज्यमंत्री

राज्य मंत्री, पशुधन,मस्त्य, राज्य सम्पत्ति एवं नगर भूमि विभाग, उ0प्र0 जय प्रकाश निषाद आज पंचम …

सम्पूर्ण समाधान दिवस में समस्याओं का निस्तारण सप्ताह के अन्दर करने का निर्देश

जिलास्तरीय सम्पूर्ण समाधान दिवस में 72में11प्रार्थनापत्रों का मौके पर हुआ निस्तारण नौगढ़ चन्दौली जिलाधिकारी  नवनीत …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *